कांग्रेस की करारी हार,गुजरात महानगर पालिका चुनाव में भाजपा का परचम

0
3

 अहमदाबाद। गुजरात के स्थानीय निकाय चुनाव में शानदार प्रदर्शन करते हुए भाजपा ने सभी छह महानगर पालिका में अपनी सत्ता बरकरार रखी है। मंगलवार शाम तक घोषित 474 सीटों में से भाजपा को 409 सीटों पर जीत मिली है। कांग्रेस को 43 और आम आदमी पार्टी को 18 सीटों पर सफलता मिली है। छह महानगर पालिका की 576 सीटों पर 21 फरवरी को मतदान कराया गया था। आम आदमी पार्टी सूरत में शानदार प्रदर्शन करते हुए जहां दूसरे नंबर की पार्टी बन गई, वहीं कांग्रेस यहां खाता भी नहीं खोल पाई। गुजरात की अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, राजकोट, जामनगर तथा भावनगर महानगर पालिका के चुनाव में भाजपा ने मुख्यमंत्री विजय रूपाणी तथा प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल के नेतृत्व में शानदार जीत दर्ज की है। कांग्रेस भाजपा के आसपास भी नहीं टिक सकी। 

कांग्रेस की करारी शिकस्त, सूरत में नहीं खुला खाता 

सूरत में कांग्रेस 120 में से एक भी सीट नहीं जीत पाई। राजकोट में कांग्रेस महज एक ही वार्ड में जीत सकी। 72 सीटों में से भाजपा 68 सीटें जीतने में कामयाब रही। चुनाव में हार के साथ ही कांग्रेस में कोहराम मचा है। सभी छह शहरों के कांग्रेस अध्यक्षों ने पार्टी आलाकमान को अपना-अपना इस्तीफा सौंप दिया हैं। रूपाणी और पाटिल की जोड़ी की यह दूसरी बड़ी जीत है। इससे पहले विधानसभा की आठ सीटों पर हुए उप चुनाव में भाजपा सभी सीटें जीतने में कामयाब रही थी। बहुजन समाज पार्टी ने जामनगर में तीन सीटें जीतकर अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। 

एआइएमआइएम ने अहमदाबाद में तीन सीटें जीतीं 

वहीं एआइएमआइएम ने अहमदाबाद में तीन सीटों से खाता खोला। इसे मुस्लिम बहुल जुहापुरा तथा मकतपुरा में सफलता मिली। अहमदाबाद मनपा की 192 सीटों में से भाजपा 165 तक पहुंच गई, जबकि कांग्रेस महज 15 सीट पर ही सिमट गई। राजकोट, वडोदरा, भावनगर में कांग्रेस दहाई का आंकड़ा नहीं छू सकी, जबकि जामनगर में 11 सीट पर ही जीत मिली।

जानें   

भाजपा ने जीती 85 फीसद सीटें 

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि नगर निगम चुनाव परिणाम बताते हैं कि गुजरात ने फिर से खुद को भाजपा के गढ़ के रूप में स्थापित किया है। मोदी जी के नेतृत्व में शुरू की गई ‘विकास यात्रा’ को बीजेपी जारी रखे हुए है। आज के नतीजे गुजरात में सबसे अच्छे परिणामों में से एक हैं।   भाजपा ने लगभग 85 प्रतिशत सीटें जीती हैं। कांग्रेस को इस चुनाव में बुरी तरह हार का सामना करना पड़ा है। कांग्रेस ने पूरे गुजरात में केवल 44 सीटें जीतीं, जबकि भाजपा ने अकेले भावनगर निगम में 44 सीटें हासिल कीं। 

वहीं गुजरात के मुख्यमंत्री के विजय रूपाणी ने कहा कि गुजरात की जनता ने भाजपा पर विश्वास जताया है। पार्टी और अधिक जिम्मेदारी से काम करेगी। गुजरात में पार्टी की जीत का श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को है। गुजरात भाजपा अध्यक्ष सीआर पाटिल ने कहा कि भाजपा ने प्रचंड जीत हासिल की है। यह पार्टी कार्यकर्ताओं और पन्ना समिति सदस्यों का कमाल है। भाजपा जनता की अपेक्षाओं पर खरी उतरेगी तथा विकास के रथ को आगे बढ़ाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here