कानपुर पुलिस ने कैसे फिर बचाई उसकी जान, डॉयल 112 पर कॉलर बोला- मैं मरने जा रहा हूं..

0
73

कानपुर। सोमवार की सुबह कानुपर की डायल 112 पुलिस उस समय सन्न रह गई, जब एक कॉलर ने फोन करके कहा- मैं मरने जा रहा हूं… बचा सको तो बचा लो मुझे। इस कॉल के बाद पीआरवी टीम सक्रिय हो गई, पुलिस के प्रयास से कॉलर की जान बच गई लेकिन खुदकुशी का कारण पूछने पर जवाब सुनकर पुलिस कर्मी भी सन्न रह गए। फिलहाल उसे पुलिस अफसरों ने समझाकर घर पर छुड़वाने की बात कही है। 

कल्याणुपर आवास विकास के केशवपुरम में रहने वाले अजीत कुमार ने सोमवार की सुबह डायल 112 पर फोन करके बताया कि वह मरने जा रहा है… और फिर उसे अपना मोबाइल फोन स्विच ऑफ कर लिया। इसपर सक्रिय हुई पुलिस की पीआरवी ने उसकी लोकेशन गंगा बैराज पर ट्रेस की और गंगा बैराज तैनात पुलिस रिस्पांस व्हीकल को तत्काल सतर्क किया। इसपर पुलिस को बैराज पर मोटासाइकिल खड़ी करके जाते एक युवक के हावभाव संदिग्ध लगे तो उसतक पहुंचने के लिए आगे बढ़ी। इस बीच युवक बैराज से गंगा नदी में कूदने का प्रयास करने लगा तो पुलिस ने उसे तत्काल पकड़कर जान बचा ली।

पुलिस उसे पकड़कर नवाबगंज थाने ले गई और खुदकुशी के प्रयास का कारण पूछा। उसका जवाब सुनकर पुलिस कर्मी भी सन्न रह गए। एसपी पश्चिम डॉ. अनिल कुमार ने बताया कि युवक ने खुद को अपनी पत्नी से पीड़ित बताया है। उसका आरोप है कि पत्नी उससे बेवजह झगड़ा करती है और कलह से त्रस्त होकर उसने खुदुकशी करने की सोच ली थी। इसी वजह से पुलिस को फोन करने के बाद वह गंगा बैराज पर गया था। एसपी पश्चिम ने बताया कि युवक को समझाया जा रहा है। उसकी जान बचाने के लिए तत्काल सक्रियता दिखाने वाली पीआरवी टीम को सम्मानित किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here