महिलाएं भी कॉर्बेट नेशनल पार्क में कराएंगी सफारी तो नेचर गाइड का भी काम करेंगी

0
46

रामनगर : मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि महिलाओं को रोजगार मुहैया कराने की दिशा में सरकार प्रयासरत है। इसी के तहत अगले पर्यटन सीजन में कॉर्बेट नेशनल पार्क में 50 महिलाएं जिप्सियों का संचालन करेंगी और 50 नेचर गाइड का जिम्मा भी संभालेंगी। यही नहीं कार्बेट पार्क से सटे आमडंडा में 500 दर्शक क्षमता वाले लाइट एंड साउंड शो एमपीथिएटर की स्थापना की जाएगी। ताकि यहां आने वाले पर्यटक भी इसका आनंद ले सके। 

विश्व वानिकी दिवस पर आमडंडा वन निगम डिपो में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत कहा कि ढेला रेंज में बन रहे वन्यजीव रेस्क्यू सेंटर को भी जू सेंटर बनाया जाएगा। तराई पश्चिमी वन प्रभाग के अंतर्गत  फाटो रेंज को सफारी जोन घोषित किया जाएगा। सीएम ने कहा कि देश-दुनिया को स्वच्छ हवा व पानी देने वाले प्रदेश जवानी और पानी बेकार नही जाने दी जाएगी। युवाओ को रोजगार से जोडऩे को लगातार प्रयास हो रहे हैं। वन ग्रामों को बिजली, पानी और सड़क जैसी मूलभूत सुविधाएं देना हमारी प्राथमिकता में शामिल है। मानव और वन्यजीव संघर्ष को रोकने के लिए जनता की सहभागिता जरूरी है।

सीटीआर से सटे गांवों को मिलेंगे अधिकार 

रामनगर विधायक दिवान सिंह बिष्ट द्वारा रखी गई मांगों पर भी सीएम ने घोषणा की। कहा कि कोसी के उत्तरी छोर पर तटबन्ध बनाया जाएगा। रामनगर क्षेत्र में सीटीआर से लगे गावों से दाखिल-खारिज एवं 143 पर लगी रोक हटाने पर कार्रवाई की जाएगी। नजूल भूमि को सर्किल रेट पर फ्रीहोल्ड कर दिया जाएगा और वर्ग तीन की भूमि पर काबिज लोगों को मालिकाना हक दिया जाएगा। सीएम ने भरतपुरी, पंपापुरी, दुर्गापुरी के विनियमितीकरण किए जाने की भी घोषणा की। रामनगर की निजी बसों के संचालन के लिए संयुक्त बस स्टॉप बनाया जाएगा। शहर में बढ़ते यातायात को देखते हुए सभी नहरों की कवरिंग की जाएगी। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here