राहुल गांधी ने किसानों के साथ कृषि कानूनों को पूरे देश के लिए खतरा बताया, कही ये बात

0
77

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कृषि कानूनों को न सिर्फ किसानों के लिए बल्कि पूरे देश के लिए खतरनाक बताया है। राहुल गांधी ने शनिवार को आंदोलनकारी किसानों को समर्थन देते हुए कहा कि नए कृषि कानून न केवल उनके लिए बल्कि पूरे देश के लिए खतरनाक हैं। गांधी ने एक ट्वीट में कहा, ‘अन्नदाता का शांतिपूर्ण सत्याग्रह देशहित में है, लेकिन ये तीन कानून सिर्फ़ किसान-मजदूर के लिए ही नहीं, जनता व देश के लिए भी घातक हैं। पूर्ण समर्थन!’

राहुल गांधी का समर्थन ऐसे समय में आया है जब प्रदर्शनकारी किसान शनिवार को दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक देश भर में ‘चक्का जाम’ आयोजित कर रहे हैं। कांग्रेस ने शुक्रवार को किसानों द्वारा किए गए देशव्यापी ‘चक्का जाम’ विरोध को समर्थन दिया था। पार्टी के महासचिव केसी वेणुगोपाल ने एक बयान में कहा कि पार्टी कार्यकर्ता नए कृषि कानूनों के विरोध में किसानों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े होंगे।

कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए दिल्ली पुलिस, अर्धसैनिक और रिजर्व बलों के लगभग 50,000 कर्मियों को दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में तैनात किया गया है। बता दें कि तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान पिछले साल 26 नवंबर से राष्ट्रीय राजधानी की विभिन्न सीमाओं पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। ये कानून- किसानों का उत्पादन व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा) अधिनियम, 2020, मूल्य आश्वासन पर किसान सशक्तिकरण और संरक्षण समझौता, कृषि सेवा अधिनियम 2020 और आवश्यक वस्तु (संशोधन) अधिनियम, 2020 हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here