सरकार ने संजय राउत के लड़कियों की शादी की उम्र बढ़ाने के सवाल पर दिया जवाब

0
101

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने बताया है कि लड़कियों की शादी की न्यूनतम उम्र बढ़ाने के मामले पर विचार करने के लिए गठित कमेटी ने अपनी रिपोर्ट पेश कर दी है। केंद्र सरकार के इस जवाब से माना जा रहा है कि जल्द ही लड़कियों की शादी की न्यूनतम उम्र 18 वर्ष से बढ़ाकर 21 वर्ष हो जाएगी। काबिलेगौर है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पिछले साल एक कार्यक्रम में लड़कियों की शादी की उम्र बढ़ाने की वकालत कर चुके हैं। दरअसल, शिवसेना सांसद संजय राउत ने गुरुवार को राज्यसभा में एक लिखित सवाल में पूछा था कि क्या सरकार, लड़कियों के विवाह की मौजूदा न्यूनतम आयु 18 वर्ष से बढ़ाकर 21 वर्ष करने संबंधी प्रस्ताव पर विचार कर रही है? यदि हां, तो इसके बारे में जानकारी उपलब्ध कराई जाए।

केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने इस सवाल के लिखित जवाब में बताया कि विवाह और मातृत्व की आयु आदि मुद्दे पर विचार करने के लिए गठित कमेटी ने अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत कर दी है। आयु के संबंध में गर्भावस्था, प्रसव, शिशु मृत्यु दर, मातृ मृत्यु दर और प्रजनन दर आदि पैरामीटर के आधार पर विचार-विमर्श हो रहा है।

बता दें कि लड़कियों की शादी की न्यूनतम उम्र बढ़ाने को लेकर सु्प्रीम कोर्ट में भाजपा नेता अश्विनी उपाध्याय की एक याचिका भी लंबित है। हालांकि, सरकार भी साफ कर चुकी है कि वह लड़कियों की शादी की उम्र बढ़ाने पर विचार कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here