6 जनवरी को विभूति खंड थाना अंतर्गत हुए पूर्व ब्लाक प्रमुख अजीत सिंह हत्याकांड के मुख्य आरोपी शार्प शूटर गिरधारी के एनकाउंटर मामले में न्यायालय में पुलिस कमिश्नर के खिलाफ दायर हुआ परिवाद।

0
88

लखनऊ पुलिस कमिश्नर के साथ-साथ एडीसीपी संजीव सुमन एसीपी प्रवीण मलिक और थानाध्यक्ष विभूति खंड चंद्रशेखर सिंह के खिलाफ परिवाद दायर किया गया है।

अब कोर्ट की अगली सुनवाई 20 फरवरी तय की गई है।

राकेश विश्वकर्मा की ओर से परिवार दायर किया गया है।

परिवाद में बताया गया है कि अजीत हत्याकांड मैं गिरधारी विश्वकर्मा उर्फ लोहार को पुलिस बी वारंट में लाई थी। उसके बाद पुलिस ने रिमांड में लिया। एनकाउंटर के समय पुलिस ने माननीय सुप्रीम कोर्ट के आदेशों का पालन नहीं किया और गिरधारी की हत्या कर दी जिस पर कोर्ट ने 20 तारीख सुनवाई के लिए तय की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here