उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के पंजीकरण प्रारंभ, बसंत पंचमी से प्रारंभ होगी कोचिंग

0
150

सीतापुर दिनांक 15 फरवरी 2021 (सू0वि0) प्रदेश के मा0 मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने अभ्युदय योजना का शुभारंभ किया। मा0 मुख्यमंत्री जी द्वारा पंजीकृत अभ्यर्थियों से संवाद भी किया। कार्यक्रम का कलेक्ट्रेट स्थित एन0आई0सी0 कक्ष में सजीव प्रसारण किया गया। 

कार्यक्रम के दौरान जिलाधिकारी विशाल भारद्वाज ने कहा कि अभ्युदय योजना छात्र-छात्राओं को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी भी कराएगा तथा उन्हें कैरियर चुनने के संबंध में मार्गदर्शन भी करेगा। उन्होंने कहा कि छात्र-छात्राओं को सिर्फ मेहनत का रास्ता चुनना होगा। उनके पास संसाधनों की कमी हो सकती है परंतु उन्हें अपनी कमजोरियों पर विजय प्राप्त करके दृढ़ निश्चय के साथ प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करनी होगी, तभी वह सफलता प्राप्त कर सकेंगे। 

जिला समाज कल्याण अधिकारी ने बताया कि माननीय मुख्यमंत्री, उत्तर प्रदेश द्वारा प्रदेश में मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना लागू कर दी गयी है, जिसमें आनलाइन पंजीकरण प्रारंभ हो गया है। इच्छुक अभ्यर्थी को योजना की अधिकारिक वेबसाइट http://abhyuday.up.gov.in पर पंजीकरण कराना होगा। मण्डल स्तर पर बसंत पंचमी दिनांक 16 फरवरी 2020 से यह कोचिंग प्रारंभ भी हो जायेगी। मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अन्तर्गत प्रतियोगी परीक्षाओं जैसे सिविल सेवा परीक्षा, पी0सी0एस0, जे0ई0ई0, नीट, एन0डी0ए0, सी0डी0एस0, पी0ओ0, एस0एस0सी0, बी0एड0, टी0ई0टी0 तथा अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के अभ्यर्थी जो किसी भी वर्ग के हो, निःशुल्क कोचिंग सुविधा मण्डल स्तर पर उपलब्ध कराई जायेगी। अभ्यर्थियों को सहजता के साथ गुणवत्ता पूर्ण स्टडी मैटरियल मिल सके, इसके लिए राज्य स्तर पर ई0 लर्निंग कन्टेन्ट प्लेटफार्म बनाया गया है। इस प्लेटफार्म पर विभिन्न अधिकारियों द्वारा परीक्षा की तैयारी से संबंधित टिप्स सामग्री, पुस्तकों आदि से सम्बन्धी मार्ग दर्शन देते हुये वीडियो अपलोड होगा तथा लाइव सेसन एवं सेमिनार भी होगें। ईलर्निंग प्लेटफार्म पर छात्र अपनी जिज्ञासायें एवं प्रश्न भी सबमिट करेगें। यहाॅं विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बन्धित विषय वस्तु सामग्री एवं क्यूरेटिव कन्टेण्ट उपलब्ध होगा, जिसके लिए ख्याति प्राप्त संस्थाओं की सामग्री इकट्ठा की जा रही है। पंजीकृत अभ्यर्थियो को ई-लर्निंग प्लेटफार्म पर सवाल पूछनें का भी मौका होगा, जिसका विशेषज्ञ समुचित निराकरण करेगें। प्रदेश स्तर पर इस योजना हेतु उ0प्र0 प्रशासन एवं प्रबन्ध अकादमी उत्तर प्रदेश लखनऊ (उपाम) सचिवालय के रूप में कार्य करेगी। इस कार्यक्रम के सफल संचालन की सम्पूर्ण जिम्मेदारी उपाम की होगी। इस योजना के अन्तर्गत बजट का आवंटन समाज कल्याण विभाग उ0प्र0 सरकार द्वारा किया जायेगा। अधिक जानकारी के लिए जिला समाज कल्याण अधिकारी, सीतापुर से सम्पर्क कर सकते हैं। 

कार्यक्रम के दौरान जिला विकास अधिकारी राकेश कुमार पाण्डेय सहित अभ्यर्थी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here