किसान आंदोलन: लगातार दूसरे दिन भी रेल सेवा रही बंद, बसों में हो रही है धक्का-मुक्की

0
29

किसान आंदोलन: किसान आंदोलन से रेल सेवा बिल्कुल ठप हो चुकी है जिससे सवारियों को मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है. पंजाब में गन्ना किसानोें का आंदोलन रविवार को भी जारी रहा। इससे दूसरे दिन भी पंजाब की ओर से आने-जाने वाली ट्रेनें रद्द रही। इससे रक्षाबंधन त्योहार पर अपने घर जाने के लिए निकले लोगों के पास रोडवेज ही एकमात्र सहारा रह गया था। जिस कारण बसों में भारी भीड़ हो गई। भीड़ के कारण अधिकांश यात्रियों को बसों चढ़ने के लिए भारी मशक्कत करनी पड़ी। दोपहर बाद भीड़ छटने लगी। शाम तक स्थिति रोज की तरह सामान्य हो गई।वहीं दूसरी तरफ ट्रेन पकड़ने पहुंचे लोगों को काफी परेशानी हुई। ट्रेनें रद्द होने का पता चलने पर उन्हें लौटना पड़ा। इस दौरान रेलवे स्टेशन सुनसान नजर आया। वहीं बुकिंग एप पर जहां दिन की गाड़ियां रद्द दिखाई गई, वहीं रात की गाड़ियों में बुकिंग होती रही, लेकिन ऐन वक्त पर ट्रेन रद्द कर दी गई।ं रद्द की गई ट्रेनों के यात्रियों को रेलवे की तरफ से पूरा किराया वापस किया जा रहा है। इसके लिए स्थानीय बुकिंग कार्यालय पर अलग से काउंटर खोला गया है।उधर, लुधियाना में गन्ना किसानों का आंदोलन और तेज हो गया है। त्योहार के दिन भी किसान पटारियों पर डटे रहे। जिस कारण गाड़ियों का संचालन नहीं हो पाया। आंदोलन के चलते दूसरे दिन भी यमुनानगर जगाधरी रेलवे स्टेशन से ट्रेन नहीं गई। ऐसे में आरक्षण करवाने वाले यात्रियों को भटकना पड़ा। पूर्व सूचना न होने के कारण यात्री सामान लेकर रेलवे स्टेशन पर पहुंचे और सूचना पाकर लौट गए। यही नहीं रेलवे ने सोमवार भी कई गाड़ियां रद्द कर दी गई हैं। कई आंशिक रूप से रद्द की गई है। जिस कारण सोमवार को इक्का दुक्का ही गाड़ियों का छोटा संचालन किया जाएगा। अमृतसर, जम्मूतवी, पठानकोट, फिरोजपुर से चलने वाली करीब 150 ट्रेनें आंदोलन से प्रभावित हैं। इनमें से करीब डेढ़ दर्जन गाड़ियां यमुनानगर जगाधरी रेलवे स्टेशन से गुजरती हैं। रेलवे ने कई गाड़ियां पूर्ण रूप से रद्द कर दी हैं और कई गाड़ियों का संचालन सहारनपुर व अंबाला से किया है।यह गाड़ियां नहीं चलींरेलवे की ओर से गाड़ी संख्या 2053-54 जनशताब्दी एक्सप्रेस, 04609-10 हेमकुंड एक्सप्रेस, 02331-32 हिमगिरी एक्सप्रेस, 04503-04 दोनों तरफ और 02903 गोल्डन टेंपल, 03005 हावड़ा मेल अप साइड में पूर्ण रूप से रद्द की गई हैं। इसके अलावा 03151-52 जम्मूतवी एक्सप्रेस सहारनपुर में ही खत्म होगी और यहीं से बनकर चलेगी। 04645 जैसलमेर जम्मूतवी दिल्ली में ही खत्म की जाएगी और वहीं से बनकर चलेगी।सहारनपुर अंबाला रूट से निकलेगी सरयू यमुनागाड़ी संख्या 04649-50 सरयू यमुना एक्सप्रेस व 04673-74 शहीद एक्सप्रेस जयनगर से अमृतसर के बीच चलती हैं। अभी यह दोनों ट्रेन मुरादाबाद से वाया दिल्ली, सोनीपत, पानीपत अंबाला होकर अमृतसर जाती हैं, लेकिन आंदोलन के कारण इसका रूट बदला है। फिलहाल आदेश आने तक दोनों गाड़ियां मुरादाबाद से दिल्ली नहीं जाएंगी। इसका संचालन सहारनपुर, अंबाला रूट से होगा। परंतु यह भी लुधियाना से आगे नहीं जा सकेगी। इससे इन ट्रेनों से अमरोहा, हापुड़, गाजियाबाद, दिल्ली, दिल्ली सब्जी मंडी, सोनीपत, पानीपत, करनाल और कुरुक्षेत्र जाने वाले यात्रियों को दूसरी ट्रेनों का सहारा लेना पड़ेगा।किसान आंदोलन के चलते पंजाब की तरफ जाने वाली गाड़ियां रद्द की गई हैं। कई गाड़ियों के रूट कम किए गए हैं। इसके अलावा कई गाड़ियां आंशिक रूप से रद्द भी रहेंगी। किसानों के हटने के बाद संचालन सुचारू हो पाएगा। जिन यात्रियों ने पहले से बुकिंग करवा रखी हैं, उनकी पेमेंट वापस करने की व्यवस्था की गई है। -हरिमोहन, सीनियर डीसीएम, अंबाला मंडल।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here