चित्रकूट में परियोजना रसिन बांध का लोकार्पण करने के बाद मुख्यमंत्री ने ली सेल्फी

0
84

बांदा। महोबा के बाद यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ चित्रकूट पहुंच गए। यहां पर उन्होंने रसिन बांध का लोकार्पण करने के बाद सेल्फी भी ली। इसके बाद मंच पर पहुंचते ही जनता ने नारे लगाकर उनका स्वागत किया तो मुख्यमंत्री ने भी हाथ हिलाकर उनका अभिवादन स्वीकार किया।

सुबह करीब 11 बजे चित्रकूट के चौधरी चरण सिंह रसिन बांध सिंचाई परियोजना स्थल पर मुख्यमंत्री का हेलीकॉप्टर उतरा। यहां पर प्रभारी मंत्री नंदगोपाल गुप्ता नंदी, लोक निर्माण राज्यमंत्री चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय, सांसद आरके सिंह पटेल, मानिकपुर विधायक आनंद शुक्ला, भाजपा जिलाध्यक्ष भाजपा चंद्र प्रकाश खरे, जिलाधिकारी शुभ्रांत कुमार शुक्ला व एसपी अंकित मित्तल ने मुख्यमंत्री का फूल माला से स्वागत किया। इसके बाद मुख्यमंत्री पास ही पार्क में शिव मंदिर में पहुंचे, जहां पर वैदिक मंत्रोच्चार के बीच पंडितों ने पूजा अर्चन कराया और फिर मुख्यमंत्री ने 140.20 करोड़ लागत से बने रसिन बांध परियोजना का लोकार्पण किया। इस परियोजना से क्षेत्र के 17 गांवों में 3635 किसानों को 2290 हेक्टेयर रकबे की सिंचाई के लिए पानी मिलेगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महोबा में लहचुरा बांध और अर्जुन सहायक परियोजना के रेगुलेटर को देखने के बाद सभा में कहा कि भाजपा सरकार में जलशक्ति मंत्रालय ने पानी का पावर दिखा दिया है। दो दिवसीय बुंदेलखंड के दौरे पर आए मुख्यमंत्री बुधवार की सुबह ललितपुर से सीधे महोबा पहुंचे। यहां पहले हेलीकॉप्टर से लहचुरा बांध का जायजा लिया। इसके बाद कार्यक्रम स्थल पर उनका हेलीकॉप्टर उतरा, जहां पर अफसरों और नेताओं ने उनका स्वागत किया। 

महोबा के लहचूरा बांध के पास कार्यक्रम स्थल पर बने हेलीपैड पर सुबह करीब 9.52 पर मुख्यमंत्री का हेलीकॉप्टर उतरा। यहां गेट नंबर तीन से वह अधिकारियों के साथ मंच पर पहुंचे। सीएम ने हाथ हिलाकर जनता का अभिवादन स्वीकार किया। उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड में पेयजल का काम चल रहा है, उसमें प्रशासन युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराए। उन्होंने जलशक्ति मंत्रात्रलय के लिए कहा कि अभी तक लोग समझते थे कि जलशक्ति मंत्रालय केवल हैंडपंप ही लगवाता है लेकिन मंत्रालय ने पानी का पावर दिखा दिया है।

सीएम ने कहा, जब से मोदी सरकार आई है, तब से तमाम बड़ी-बड़ी सिंचाई योजनाएं संचालित की गई हैं। मुख्यमंत्री ने करीब सात मिनट तक अपने संबोधन में बुंदेलखंड के विकास कार्यों और उपलब्धियों को बताया। कई परियाजनाएं शुरू करके अबतक असिंचित बुंदेलखंड को सिंचित बनाने को लेकर सरकार के प्रयास का बखान किया। उन्होंने जनप्रतिनिधियों के लिए कहा कि वह चुनकर सदन में पहुंचते हैं, जहां बुंदेलखंड के विकास और गरीब किसानों की आवाज बुंलद करते हैं। उन्होंने कहा कि मेरा महोबा वीरों की भूमि है, यहां से मेरा विशेष लगाव रहा है। पिछली बार जब आया था तब यहां से कई बातों को सीखा है। मुख्यमंत्री ने अफसरों के साथ अर्जुन सहायक परियोजना के रेगुलेटर, लहचुरा बांध तथा अन्य कार्यों को देखा और अफसरों से पूछताछ की। 

बांदा के जीआइसी के मैदान में जनसभा होगी। बांदा, हमीरपुर, महोबा और चित्रकूट की 229 परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास करने के साथ किसी बड़ी सौगात की भी घोषणा कर सकते हैं।

केंद्र व प्रदेश सरकार की नजरें बुंदेलखंड पर टिकी हैं। यहां के विकास को लेकर धरातल पर कई परियोजनाओं को उतारने का खाका तैयार करने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ दो दिनों के दौरे पर हैं। मंगलवार को जालौन, ललितपुर व झांसी के बाद बुधवार को चित्रकूट व बांदा में कार्यक्रम तय हैं। मुख्यमंत्री के आगमन को लेकर जिला प्रशासन दिनभर तैयारियों में जुटा रहा। वह बांदा के जीआइसी मैदान से चारों जिलों की विभिन्न परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास करेंगे।

मुख्यमंत्री चित्रकूट से हेलीकाप्टर से बांदा पहुंचेंगे। बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के साथ जिला अस्पताल व एक प्राथमिक विद्यालय का भी निरीक्षण कर सकते हैं। प्रोटोकाल के मुताबिक दोपहर 11:55 बजे मुख्यमंत्री पुलिस लाइन पहुंचेंगे, वहां से जीआइसी मैदान में मुख्य कार्यक्रम आयोजित है। यहां लाभार्थी परक योजनाओं के प्रमाणपत्र भी वितरित करेंगे। वह जल जीवन मिशन के अंतर्गत हर घर नल, घर-घर जल योजना का खटान पेयजल परियोजना का निरीक्षण भी करने जाएंगे। जनप्रतिनिधियों, पार्टी पदाधिकारियों से भेंट के साथ कानून व्यवस्था व विकास कार्यों की समीक्षा बैठक लेंगे।

मुख्यमंत्री का कार्यक्रम

  • 11:55 बजे-बांदा के जीआइसी मैदान हेलीपैड पर आगमन
  • 12 से 1 बजे तक : चित्रकूटधाम मंडल के विभिन्न विकास कार्याें का लोकार्पण, शिलान्यास एवं लाभार्थीपरक योजनाओं के प्रमाणपत्र वितरण व जनसभा
  • 13 बजे -जीआइसी हेलीपैड से ग्राम खटान (बांदा) के लिए प्रस्थान
  • 13:20 बजे-हेलीपैड खटान पर आगमन
  • 13:30 से 13:40 बजे तक -जल जीवन मिशन के अंतर्गत हर घर नल-घर-घर जल परियोजना का स्थलीय निरीक्षण
  • 13:40 बजे-खटान हेलीपैड से प्रस्थान
  • 14 बजे-बांदा के कृषि विश्वविद्यालय हेलीपैड पर आगमन
  • 14 बजे से 14:15 बजे तक- बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का निरीक्षण
  • 14:15 से 14:45 बजे तक- जनप्रतिनिधियों, पार्टी पदाधिकारियों से भेंट कृषि विश्वविद्यालय में
  • 14:45 से 15:15 बजे तक -आरक्षित, कृषि विश्वविद्यालय में
  • 15:15 से 16:45 बजे तक-चित्रकूटधाम मंडल के विकास कार्यों व कानून व्यवस्था की समीक्षा, कृषि विश्वविद्यालय में
  • 16:45 बजे -कृषि विश्वविद्यालय हेलीपैड से लखनऊ के लिए प्रस्थान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here