झांसी में सीएम योगी आदित्यनाथ बोले- भारत की ताकत पर दुनिया को पूरा भरोसा है, पर विदेशी जूठन पर पलने वालों के पेट में दर्द

0
74

झांसी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने झांसी में 1664 करोड़ की योजनाओं के शिलान्यास व लोकार्पण कार्यक्रम में कृषि कानूनों को लेकर किसानों में भ्रम फैलाने वालों को आड़े हांथो लिया। उन्होंने कहा कि किसानों को गुमराह वे लोग कर रहे हैं, जिन्हें उनके चेहरे पर खुशहाली अच्छी नहीं लगती है। जब दुनिया भारत की ताकत का अहसास कर रही है और वैश्विक मंच पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यों को सम्मान मिल रहा है तो यहां के कुछ विदेशी जूठन पर पलने वाले लोगों को पेट में दर्द हो रहा है। उसी पेट के दर्द का उपचार करने की आवश्यकता है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुंदेलखंड के दो दिवसीय दौरे पर मंगलवार को झांसी पहुचे। इस दौरान सीएम योगी ने झांसी मंडल की 78 विभिन्न विकास परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। जीआइसी ग्राउंड पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने सरकार की विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र भी वितरित किया। इस दौरान सभा को संबोधित करते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि झांसी मंडल की 1100 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का लोकार्पण और 564 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का शिलान्यास आज किया गया है। उन्होंने कहा कि धरती का स्वर्ग बनने की क्षमता बुंदेलखंड में थी, लेकिन यहां आजादी की बाद की सरकारों ने यहां के प्राक्रतिक संसाधनों का दोहन अपने स्वयं और अपने परिवार के लिए हित में किया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बुंदेलखंड के नौजवानों को रोजगार मिले, यहां खुशहाली आ सके, हर खेत को पानी मिल सके और हर घर में नल की योजना पहुंच सके, इसके लिए इस परिकल्पना को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साकार किया है। ‘विकास सबका, लेकिन तुष्टीकरण किसी का नहीं’ इस विश्वास के साथ जो विकास कार्य शुरू हुए उसके परिणाम आज दिखने लगे हैं। उन्होंने कहा कि विकास का कोई विकल्प नहीं हो सकता है। बुंदेलखंड के हर घर में नल आजादी के पहले पांच वर्षों में ही मिल जाना चाहिए था, लेकिन आज हम उस नैतिक जिम्मेदारी को समझ रहे हैं। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देश और दुनिया झांसी को रानी लक्ष्मीबाई के पराक्रम के माध्यम से देखता है, लेकिन बेहतर कनेक्टिविटी नहीं होने के कारण लोगों को यहां आने में समस्याएं होती हैं। सरकान ने तय किया है कि अब बेहतर कनेक्टिविटी देंगे। झांसी को एक्सप्रेस-वे और वायु मार्ग से जोड़ेंगे। ढेर सारी संभावनाएं इस धरती पर हैं। इसी उद्देश्य से डिफेंस कॉरिडोर का यहां केंद्र बनाया गया है। आप कल्पना कीजिए जब झांसी की धरती पर फाइटर विमान बनेंगे और ये फाइटर विमान दुश्मन की धरती पर जाकर उसके अड्डों को ध्वस्त करेंगे। झांसी का नौजवान जब दुश्मन की छाती को रौंदता हुआ दिखाई देगा तो यहां का शौर्य और पराक्रम एक बार फिर से रानी लक्ष्मीबाई के रूप में देश और दुनिया देखेगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जो लोग किसानों के कंधों पर बंदूक रखकर उन्हें गुमराह कर रहे हैं, मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि यदि कांट्रैक्ट फार्मिंग देखना है तो वैद्यनाथ ग्रुप के द्वारा बुंदेलखंड किसानों के साथ जुड़ कर जो कार्य किया जा रहा है वह उसका बेहतरीन उदाहरण है। किसी किसान की जमीन नहीं ली गई, जबकि मुनाफा दी दिया गया है। उन्होंने कहा कि किसान के नाम पर राजनीति हो रही है। जिनको खेती-किसानी से कोई वास्ता नहीं वे किसानों के हित में बनाए गए कानून पर टिप्पणी कर रहे हैं।

सीएम योगी ने कहा कि कृषि कानून 2020 में भारत सरकार ने तय कर दिए थे, लेकिन आज तक कोई भी मंडी नहीं बंद हुई। किसानों को भ्रमित कर झूठ फैलाया जा रहा है। सीएम योगी ने कहा कि किसानों को गुमराह वे लोग कर रहे हैं, जिन्हें उनके चेहरे पर खुशहाली अच्छी नहीं लगती है। जब दुनिया भारत की ताकत का अहसास कर रही है और वैश्विक मंच पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सम्मान मिलता है तो यहां रहने वाले कुछ विदेशी जूठन पर पलने वाले लोगों लोगों को पेट में दर्द हो रहा है और उसी पेट का उपचार करने की आवश्यकता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here