ट्विटर विवाद के बाद सीएम योगी Koo एप पर कहीं यह बात

0
75

लखनऊ. गाजियाबाद (Ghaziabad) के लोनी में बुजुर्ग तांत्रिक की पिटाई के बाद ट्विटर (Twitter) पर दर्ज हुए मुकदमें के बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने इंडियन माइक्रोब्लॉगिंग ऐप कू (Koo) पर अपना अकाउंट खोल लिया है. कू ऐप पर एक्टिव होने के बाद अपने पहले पोस्ट में उन्‍होंंने गाजीपुर में गंगा में बहती मिली नवजात बच्ची का जिक्र किया है. बताया जा रहा है कि ट्विटर विवाद के बीच मुख्यमंत्री ने कू ऐप से सन्देश भेजकर अपनी मंशा स्पष्ट कर दी है कि देश के कानून न मानने पर वे देसी प्लेटफार्म का प्रयोग करने से भी नहीं झिझकेंगे.

सीएम योगी ने कू ऐप के अपने संदेश में लिखा, ‘गाजीपुर में मां गंगा की लहरों पर तैरते संदूक में रखी नवजात बालिका गंगा की जीवन रक्षा करने वाले नाविक ने मानवता का अनुपम उदाहरण प्रस्तुत किया है. नाविक को आभार स्वरूप सभी पात्र सरकारी योजनाओं से लाभान्वित किया जाएगा.’

ट्विटर का कानूनी संरक्षण ख़त्म

गौरतलब है कि देश के नए आईटी कानून न मानने पर भारत सरकार ने ट्विटर को दी गई कानूनी संरक्षण को समाप्त कर दिया. जिसके बाद उत्तर प्रदेश में ट्विटर इंडिया और उसके अधिकारियों के खिलाफ पहला मुकदमा दर्ज किया गया. ट्विटर पर फेक न्यूज़ फैलाने और पुलिस की जांच के बाद तथ्य सामने पर भी फेक वीडियो न हटाने का आरोप लगा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here