पंजाब कांग्रेस में कलह के बीच राहुल गांधी ने मोर्चा संभाला

0
60

नई दिल्ली, पंजाब कांग्रेस में कलह के बीच राहुल गांधी ने मोर्चा संभाल लिया है। वह शुक्रवार को दिल्ली में अपने आवास पर राज्य के पार्टी विधायकों से मुलाकात करेंगे। इससे पहले बुधवार को पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सुनील जाखड़ और पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने दिल्ली में राहुल से मुलाकात की थी। पंजाब कांग्रेस में गुटबाजी को खत्म करने के लिए सिलसिलेवार बैठकों के बीच पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने बुधवार को कहा कि मौजूदा हालात को जल्द ही सुलझा लिया जाएगा।

पंजाब में कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा दो मौजूदा विधायकों के बेटों को सरकारी नौकरी देने के कुछ दिनों बाद, जाखड़ ने कहा था कि कुछ गलत लोग मुख्यमंत्री को सलाह दे रहे हैं, जिसके कारण यह निर्णय लिया गया। उन्हों यह बात राहुल के साथ बैठक के बाद कही थी। उन्होंने यह भी कहा था कि कुछ दिनों में कुछ ऐसे लोग कैप्टन के करीब आ गए हैं जो गलत सलाह दे रहे हैं। राहुल गांधी को पंजाब की सारी समस्याओं के बारे में पता है। जिसका वह हल कर देंगे।

कांग्रेस के लिए पंजाब काफी महत्वपूर्ण

कांग्रेस के पंजाब मामलों के प्रभारी और महासचिव हरीश रावत ने बुधवार को कहा कि एक रिपोर्ट सौंप दी गई है, जिसका जवाब 8-10 जुलाई तक मिल जाना चाहिए। विधायक नवजोत सिंह सिद्धू को तीन सदस्यीय पैनल द्वारा बयान देने के लिए बुलाया जाएगा। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पार्टी की पंजाब इकाई में गुटबाजी खत्म करने के लिए तीन सदस्यीय पैनल का गठन किया था। कांग्रेस के लिए पंजाब काफी महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह उन कुछ राज्यों में से एक है जहां पार्टी सत्ता में है। ऐसे में यहां जो कुछ भी होगा उसका राज्य के बाहर भी पार्टी की संभावनाओं पर असर पड़ेगा। राज्य में अगला विधानसभा चुनाव अगले साल होने वाला है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here