पुलिस ने नकली नोट खपाने वाले एक गिरोह के 8 सदस्यों को गिरफ्तार किया

0
73

मध्य प्रदेश के बालाघाट में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है. पुलिस ने नकली नोट खपाने वाले एक गिरोह के 8 सदस्यों को गिरफ्तार किया है, जिनके पास से 5 करोड़ रुपए के जाली नोट बरामद किए गए हैं. बालाघाट एसपी अभिषेक तिवारी ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि कुछ लोग आदिवासी बहुल क्षेत्रों में लोगों को 2 महीने में दो गुना पैसा करने का लालच दे रहे हैं.

लोगों को शक था कि यह नकली नोट हो सकते हैं. इस सूचना के आधार पर टीम ने जांच शुरू की तो पता चला कि एक गिरोह ग्रामीणों को अंधविश्वास के जाल में फंसाकर नकली नोट खपाने की फिराक में हैं. आरोपी गांव के लोगों को झांसा दे रहे थे कि नोटों को पूजा की जगह पर दो महीने तक रखने के बाद ये दोगुने हो जाएंगे.

लोगों को शक हुआ और उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दे दी. पुलिस ने इस मामले में मध्य प्रदेश के बालाघाट से 6 आरोपियों और महाराष्ट्र के गोंदिया से 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. इस गिरफ्तारी के बाद ही जानकारी मिली कि इस गिरोह का रैकेट मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में फैला हुआ है.

एसपी अभिषेक तिवारी के मुताबिक, अरोपियों के पास से 5 करोड़ के नकली नोट जब्त किए गए हैं. इनमें 10 रुपये से लेकर 2 हजार रुपए तक के नकली नोट हैं. पुलिस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि इतनी बड़ी संख्या में आरोपियों ने नोट कैसे और कब छाप लिए.

छानबीन में जुटी है पुलिस

पुलिस यह जानकारी भी जुटा रही है कि इसी साल मार्च में इलाके में पुलिस ने नकली नोट खपाने की नीयत से घूम रहे चार लोगों को करीब 5 लाख के नकली नोट के साथ गिरफ्तार किया था, क्या इन अरोपियों का उस मामले से कहीं कोई संबंध तो नहीं? फिलहाल पुलिस की कई टीमें मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में सर्चिंग कर रही है और यह मालूम करने की कोशिश कर रही है कि इनका सरगना कौन है और अब तक कितने रुपये के नकली नोट कहां कहां खपाए गए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here