यूपी-बिहार सहित इन राज्यों में बारिश के आसार, मौसम में बढ़ सकती है हलचल, जाने- आगे कैसा रहेगा मौसम

0
117

नई दिल्ली। मौसम में इस समय लगातार उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है। उत्तर भारत और देश के अन्य हिस्सों में हल्‍की बूंदा-बादी देखने को मिली, वहीं देश के कई इलाकों मेंं पारा भी चढ़ने लगा है। मौसम विभाग ने उत्‍तर प्रदेश के कई हिस्‍सों में भी तेज गरज के साथ बारिश होने की संभावना जताई गई है। उत्‍तराखंड के कुछ इलाकों में भी तूफान और बारिश के साथ ओलावृष्टि का पूर्वानुमान लगाया गया है। उधर, हिमाचल प्रदेश, जम्‍मू कश्‍मीर समेत के कई इलाकों में मौसम विभाग ने बर्फबारी की चेतावनी है। इन राज्‍यों में हल्‍की बारिश होने के भी आसार भी हैं।

वहीं मैदानी इलाकों में इस हफ्ते तापमान में गिरावट जारी रहेगी। हिमाचल प्रदेश में पांच दिन मौसम खराब रहने का अनुमान है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने हिमाचल प्रदेश में 21 से 25 फरवरी तक मौसम का पुर्वानुमान लगाया है। 21 से 25 फरवरी तक प्रदेश के ऊंचाई वाले इलाकों में मौसम खराब रहेगा। वहीं, 23 फरवरी तक शिमला सोलन, सिरमौर, मंडी, कुल्लू और चंबा में आंधी और बारिश की चेतावनी के साथ येलो अलर्ट जारी किया गया है।

जानें- मौसम में क्यों हो रहा बदलाव

पिछले दो-तीन दिनों से बने पश्चिमी विक्षोभ के कम प्रभावी सिस्टम के चलते बीते बुधवार को उत्तराखंड के नैनीताल में बारिश दर्ज की गई है। यहां पर पश्चिमी हवा के चलते मैदानी इलाकों में तापमान बढ़ा हुआ है। स्काईमेट वेदर के मुताबिक एक कमजोर पश्चिमी विक्षोभ इस समय हिमाचल प्रदेश और इससे सटे भागों के ऊपर बना हुआ है। साथ ही एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र मध्य पाकिस्तान तथा इससे सटे पश्चिमी राजस्थान के भागों के ऊपर दिखाई दे रहा है।  एक अन्य चक्रवाती सिस्टम मध्य भारत में मध्य महाराष्ट्र के ऊपर हवाओं में दिखाई दे रहा है। इस चक्रवाती सिस्टम से आंतरिक कर्नाटक होते हुए केरल के तटीय भागों तक पहले की तरह ही एक ट्रफ रेखा सक्रिय है।

इन राज्यों में बारिश की आशंका

स्काईमेट वेदर के अनुसार अगले 24 घंटों के दौरान पूर्वोत्तर भारत, सिक्किम, पश्चिम बंगाल, बिहार के पूर्वी और दक्षिण-पूर्वी हिस्सों, झारखंड, ओड़ीशा, छत्तीसगढ़, पूर्वी और दक्षिण-पूर्वी मध्य प्रदेश, विदर्भ, मराठवाड़ा, तेलंगाना, कर्नाटक और आंध्र प्रदेश में भी कुछ स्थानों पर गर्जना के साथ बारिश देखने को मिल सकती है। मध्य महाराष्ट्र, अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह में भी एक-दो जगहों पर हल्की वर्षा का अनुमान है। उत्तर भारत में पहाड़ों पर गतिविधियां अगले 24 घंटों में शुरू हो सकती है। सबसे पहले बारिश और बर्फबारी जम्मू कश्मीर, गिलगित बाल्टिस्तान, मुजफ्फरबाद और लद्दाख में देखने को मिलेगी। 24 घंटों के बाद मौसम हलचल और बढ़ सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here