यूपी बोर्ड परीक्षाफल कभी भी हों सकता है घोषित, ड्राफ्ट तैयार

0
96

लखनऊ. कोरोना की वजह से रद्द हुई यूपी बोर्ड (UP Board) की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षा के बाद छात्रों को प्रमोट करने और परिणाम घोषित (UP Board Result) करने के फॉर्मूले का ड्राफ्ट तैयार कर लिया गया है. उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा (Dinesh Sharma) और अपर मुख्य सचिव माध्यमिक शिक्षा विभाग आराधना शुक्ला रिजल्ट घोषित करने के फॉर्मूले को दोपहर एक बजे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) के समक्ष रखेंगे. मुख्यमंत्री की मंजूरी के बाद इसी फॉर्मूले पर छात्रों को प्रमोट करते हुए परिणाम घोषित कर दिया जाएगा.

यूपी बोर्ड परीक्षा को लेकर रविवार को उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने बोर्ड द्वारा तैयार फार्मूले का ड्राफ्ट पेश करेंगे. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की हरि झंडी के बाद हाईस्कूल में 29,94,312 परीक्षार्थी व इंटरमीडिएट में 26,10,316 परीक्षार्थियों को सौगात प्रमोशन की सौगात मिल जाएगी. बता दें परीक्षा परिणाम घोषित करने के लिए गठित कमेटी को प्रदेश भर से 3910 सुझाव मिले थे. अब मुख्यमंत्री योगी की मंजूरी के बाद ये फॉर्मूला लागू होगा.

ये है फार्मूला

हाईस्कूल के परीक्षार्थियों को कक्षा 9 के 50% अंक और 10वीं प्री बोर्ड में प्राप्तांक अंक के 50% अंक देकर परिणाम घोषित किया जा सकता है. वहीं इंटरमीडिएट के परीक्षार्थियों को हाई स्कूल के 50%, 11 वीं के 40% और 12वीं प्री बोर्ड के 10% अंक देकर रिजल्ट घोषित किया  जा सकता है. अपर मुख्य सचिव माध्यमिक शिक्षा विभाग आराधना शुक्ला की अध्यक्षता में गठित कमेटी ने परिणाम का ड्राफ्ट तैयार किया है. परीक्षा परिणाम घोषित करने के लिए गठित कमेटी को प्रदेश भर से 3910 सुझाव मिले थे. हालांकि आने वाले समय में जब परिस्थितियां सामान्य होंगी तो इच्छुक परीक्षार्थी परीक्षा देकर अपना परिणाम सुधार सकेंगे. परीक्षार्थियों से लिया गया परीक्षा शुल्क वापस नहीं किया जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here