15 हजार का इनामी दबोचा, आरोपी है ग्राम विकास अधिकारी

0
118

बलरामपुर पुलिस ने एक गैंगरेप मामले में आरोपी और 15,000 के इनामी अपराधी को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार अभियुक्त वारदात को अंजाम देने के बाद से ही फरार चल रहा था. अभियुक्त अश्वनी प्रताप वर्मा की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने कई टीमें गठित की थीं. एसपी ने अभियुक्त पर 15000 रुपये का इनाम भी घोषित किया था.

पुलिस ने गुरुवार के दिन रेहरा थाना क्षेत्र के वन डिपो गोंडा रोड से फरार इस अभियुक्त को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार अभियुक्त ग्राम विकास अधिकारी पद पर तैनात है. घटना में शामिल चार अभियुक्तों को पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

8 अप्रैल 2021 को रेहरा थाना क्षेत्र के कस्बे में एक महिला के साथ 5 पंचायत कर्मियों ने गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया था. रेहरा बाजार विकास खण्ड का एक पंचायत सिक्रेटरी अपनी महिला मित्र को उसके घर छोड़ने के बहाने अपने सहकर्मी के कमरे पर ले गया. जहां उसे कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर पिला दिया और नशे में होने पर उसके साथ बारी-बारी से सभी लोगों ने रेप किया था.

गिरफ्तार अभियुक्तों में रेहरा विकाखण्ड के एक पंचायत सीक्रेटरी, एक ग्राम विकास अधिकारी, एक ऑडिटर और दो रोजगार सेवक शामिल हैं.

अपर पुलिस अधीक्षक अरविंद मिश्रा ने बताया ”थाना कोतवाली रेहरा क्षेत्र में 8 अप्रैल को पांच अभियुक्तों ने मिलकर गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया था. जिनमें से चार अभियुक्तों की गिरफ्तारी कर ली गई थी. गैंग रेप में आरोपित पांचवें अभियुक्त ग्राम विकास अधिकारी गिरफ्तारी के लिए पुलिस अधीक्षक ने कई टीमों का गठन किया था.

मामले की विवेचना महिला थाना अध्यक्ष अनुपमा त्यागी द्वारा की जा रही थी. सर्विलांस टीम की सहायता से गैंगरेप के आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here