UP में वैक्सीन से डरी बुजुर्ग महिला ड्रम के पीछे छिपी, बोलीं- ‘हम टीका ना लगवाई’

0
90

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में योगी सरकार एक ओर कोरोना टीकाकरण की रफ्तार बढ़ाने की कोशिश कर रही है तो वहीं दूसरी ओर ग्रामीण इलाकों में टीके को लेकर अभी भी कई तरह की आशंकाएं सामने आ रही हैं। राज्य सरकार ने एक जून से प्रदेश भर में कोरोना वैक्सीन महाभियान की शुरुआत की है। सरकार ने जून के महीने में एक करोड़ लोगों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य रखा है, लेकिन जागरूकता के अभाव में लोग टीका लगवाने से करता रहे हैं। ताजा उदाहरण इटावा जिले में सदर तहसील के चांदनपुर गांव का सामने आया है। जब इस गांव में कोरोना वैक्सीन लगाने के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंचनी तो कई लोग घरों में ताला डालकर भाग गए। एक घर में बुजुर्ग महिला अनाज रखने के ड्रम के पीछे छिप गईं।

इंटरनेट मीडिया पर यूपी के इटावा का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें साफ देखा जा सकता है कि बुजुर्ग को बार-बार वैक्सीन लगवाने के लिए बुलाने पर भी महिला बाहर आने तो तैयार नहीं हैं। वह डर की वजह से गेहूं के ड्रम के पीछे छिप गईं। वीडियो में उनसे एक शख्स लगातार कह रहा है कि अम्मा बाहर आओ, वैक्सीन लगाने के लिए लोग आए हैं, लेकिन डरी सहमी बुजुर्ग महिला गेहूं के ड्रम के पीछे छिप जाती हैं और कह रही हैं कि वह वैक्सीन कभी नहीं लगवाएंगी। वैक्सीन लगाने से बुखार आ जाता है।

घरों में ताला डालकर भागे लोग : इटावा जिले में सदर तहसील के चांदनपुर गांव में बुधवार को कोरोना वैक्सीन लगाने के लिए स्वास्थ्य टीम पहुंचने पर कई लोग घरों में ताला डालकर भाग गए। एक घर में बुजुर्ग महिला अनाज रखने के ड्रम के पीछे छिप गईं। उनके पति बाहर खड़े रहे। ग्रामीणों को प्रोत्साहित करने आईं सदर विधायक सरिता भदौरिया ने जब बात की तो बड़ी मुश्किल में बाहर निकलीं, मगर वैक्सीन नहीं लगवाई। कहा कि वैक्सीन से बीमार हो जाएंगी।

समझाने के बाद कई ग्रामीणों ने लगवाई वैक्सीन : वैक्सीन लगवाने के लिए जागरूक करने पहुंचीं सदर विधायक सरिता व भाजपा नेता विकास भदौरिया ने बताया कि घर में छिपी मुन्नी देवी ने बाद में वैक्सीन लगवाने की बात कही है। उनके पति ने वैक्सीन लगवा ली। गांव में स्वास्थ्य विभाग की टीम के आने की खबर से कई लोग घरों में ताला बंद करके भाग गए। बाद में जब उन्हें वैक्सीन की जरूरत के बारे में समझाया गया तो तैयार हुए। कई ने वैक्सीन की डोज लगवा ली है। ग्रामीणों को समझाया जा रहा है कि वह अफवाहों से बचकर वैक्सीन जरूर लगवाएं। इस पर रजामंदी दिखाई है।

कई मामले आ चुके हैं सामने : उत्तर प्रदेश के ग्रामीण इलाको में अभी 45 साल से ऊपर के लोगों का टीकाकरण हो रहा है, लेकिन गांवों में टीके को लेकर लोगों में उत्साह और जागरूकता की कमी दिख रही हैं औरैया में पिछले दिनों टीकाकरण करने वाली स्वास्थ्य विभाग की टीम पर जहां कुछ लोगों ने हमला बोल दिया वहीं हाल में बाराबंकी में स्वास्थ्य विभाग की टीम को देखकर कुछ लोगों ने नदी में छलांग लगा दी थी। बाराबंकी में 22 मई को कोरोना वैक्सीन लगाने के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम रामनगर तहसील के सिसौंडा गांव पहुंची थी। ग्रामीणों ने स्वास्थ्य विभाग की टीम को देखकर नदी में छलांग लगा दी। हालांकि बाद में प्रसाशन के समझाने पर बाहर आकर लोग टीकारण के लिए तैयार हो गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here